जब वो चुप होता है
मैं और बोलने लगती हूँ
वो कहता है
मेरे पास लिखने को 'तू' है
मेरी डायरी
और उसके पास...
उसे कौन समझाए
जब वो नहीं सुनता
मैं और बोलने लगती हूँ
जब वो नही बोलता
मैं और लिखने लगती हूँ।

Comments

Pankaj Dixit said…
कुछ कुछ समझ आया बहुत कुछ नही...कैसे प्रतिक्रिया दूँ???
Pankaj Dixit said…
कुछ कुछ समझ आया बहुत कुछ नही...कैसे प्रतिक्रिया दूँ???